Category: Shiva

मृत्यु के देव यमराज का चौकाने वाला रहस्य, जान आप हो जाओगे हैरान !

कहते की मनुष्य धरती पर जो कुछ भी करता है वह सब कुछ चित्रगुप्त उसके खाते में लिखते जाते है. तथा उस व्यक्ति के मृत्यु के पश्चात यमदूतों द्वारा …

क्या आप जानते है महादेव शिव से जुडी हैरान करने वाली इन गुप्त बातो को !

ऐसा कहा जाता है की आइस्टीन से भी पहले भगवान शिव ने यह बताया था की कल्पना ज्ञान से ज्यादा अधिक महत्वपूर्ण है. हम जिस प्रकार की कल्पना करते …

जब स्वयं ब्रह्म देव भी हुए नारद मुनि के इस प्रश्न का उत्तर देने में विफल, महादेव ने किया समाधान !

name=”जानिए शिव जी से जुडी और कथाए और भगती के नियम”> एक दिन नारद मुनि आकाश मार्ग से नारायण नारायण का जाप करते हुए जा रहे थे तभी उनके …

महादेव शिव का प्रलयंकारी क्रोध,जब निगल डाला दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य को…. !

Lord Shiva :- ऋषि शुक्राचार्य दैत्यों के गुरु कहलाते है तथा इनके बारे में काशी खण्ड महाभारत ( lord shiva ) जैसे ग्रंथो में अनेक कथाएं लिखी गई है. शुक्राचार्य …

अपने भक्त की रक्षा के लिए जब महादेव शिव को करना पडा भगवान श्री कृष्ण से युद्ध, जाने क्या हुआ इस भीषण युद्ध का परिणाम !

Shiva and lord krishna :- महाप्रतापी एवं दैत्यराज बलि के 100 पुत्र थे जिसमे उसके सबसे बड़े पुत्र का नाम वाणासुर था, ( shiva ) वाणासुर बचपन से ही भगवान …

जाने आखिर क्यों भगवान शिव ने किया अपने ही भक्त और रावण के भाई ”कुम्भकर्ण” के पुत्र का वध !

Shiva :- अपने भाई लंकापति रावण के समान ही कुम्भकर्ण की भी शिव ( shiva ) के प्रति अगाध श्रद्धा थी , ऋषि विश्रवा व कैकसी के दूसरे पुत्र के रूप में …

अमरनाथ गुफा से जुड़े इन रहस्यों को बहुत कम ही लोग जानते है !

Amarnath:- ( amarnath ) एक बार भगवान शिव माता पार्वती के साथ कैलाश पर्वत पर बैठकर कुछ वार्तालाप कर रहे थे तभी कुछ सोचते हुए माता पार्वती ने महादेव शिव से …

यदि घर पर हो शिवलिंग तो न करें ये कार्य, अन्यथा उठाना पड सकता है नुक्सान !

Shivling :- यदि आपने महादेव शिव के प्रतीक शिवलिंग ( shivling  ) को घर में स्थापित किया है तो आपको भी कुछ बातो का विशेष ध्यान रखना होगा क्योकि यदि …

महादेव शिव का एक लाख छिद्रो वाला दुर्लभ शिवलिंग, एक छिद्र से है पाताल जाने का रास्ता !

Lakhneshvar Temple shivling :- छत्तीसगढ़ की मोक्षदायनी स्थल ( Lakhneshvar Temple shivling ) होने के कारण यहाँ की काशी तथा पांच ललित कला केंद्रों में से एक कहलाने वाला खरौद नगर …