Shiv Parivar की क्या मान्यता है आकिर क्यों पूजा जाता है उन्हें शिवलिंग के रूप में..

Shiv parivar परिवार हर किसी का होता है चाहे वो इंसान हो या भगवान| ऐसे ही आज बात करेगे शिव जी के परिवार (shiv Privar ) के बारे में| आखिर आज हम शिव जी के परिवार (shiv parivar members) के बारे में क्यों बात कर रहे है आइये जानते है| शिव के परिवार में अद्भुत […]

Narmadeshwar shivling original कैसे करे पूजा विधि और जाने इसके उपाय

Narmadeshwar shivling Narmadeshwar shivling आप सब से बहुत से शिवलिग के बारे में सुनना होगा और आप जानते ही है| शिवलिंग Narmadeshwar shivling भगवान शिव का रूप माना जाता है और उस की पूजा भी होती है| ऐसे ही शिवलिंग बहुत प्रकार की होती है और हर किसी का अपना रहस्य है| आइये जानते है […]

Parad shivling के साथ ख़ुद शिव होते है प्रकट जानिए कैसे करते है परेशानियों को दूर

benifits of parad shivling

Parad shivling Parad shivling इस युग में हर व्यक्ति किसी न किसी की पूजा करता है| हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई कोई भी धर्म हो हर किसी को भगवान पर विश्वास होता है. आज हम आपको कुछ ऐसा ही बताने जा रहे है जिससे सुनने के बाद आप भी इस का इस्तमाल जरुर करेगे| धर्मग्रंथों के […]

Andhak Vadh क्या शिव का गुस्सा बना अपने ही बेटे की मृत्यु का कारण या कुछ और है

Andhak Vadh in hindi| अंधक वध इन हिंदी Andhak Vadh भगवन शिव सब से महान देवता में से एक है उन के जैसा महान पुरुष देवता न हुआ है न होगा| भगवन शिव को धरती का करता डरता माना जाता है| क्यों की भगवान शिव ने धरती को बचने के लिए अपनी तीसरी आँख खोली […]

Lingaraj temple की मान्यता क्या है और इस मंदिर में कब देते हो भगवन शिव दर्शन !!

Lingaraj Temple Bhubaneswar Lingaraj Temple लिंगराज मंदिर भारत के ओडिशा शहर राजधानी भुवनेश्वर में स्थित यह सब से बड़ा मंदिर हैं। यह भुवनेश्वर महाराज का प्रिय मन्दिर माना जाता है| यह शहर का सबसे पुराने मंदिरों में से एक है और इस शहर में प्राचीनतम (Histrology) के हिसाब से यह महान मंदिरों में से एक है। […]

Akshardham Temple पुरे भारत देश का सब से सुन्दर दिखने वाला मंदिर जरुर जाए |

WHAT IS AKSHARDHAM Akshardham Temple जैसा की हर कोई जनता है भारत की राजधानी दिल्ली है| इस वजह से हर कोई दिल्ली जैसे शहर में आना पसंद करता है चाहे वो शौपिंग हो या घूमना फिरना| दिल्ली शहर लोगो को आकर्षित करने वाला शहर है, यहाँ की संस्कृति और धर्म दोनों ही लोगो को आकर्षित […]

Kashi Vishwanath Temple varanasi history, katha,mandir, timing, niyam, pooja vidhi, rahasya

Kashi vishwanath temple Varanasi Kashi Vishwanath Temple varanasi  पुराणों और ग्रंथों के मुताबिक काशी विश्वनाथ भगवान शिव की सबसे प्रिय नगरी में से एक है। भगवान शिव को भोले नाथ भी कहा जाता है, क्यों की वो अपने भगतो की जल्दी मनोकामना पूरी करते है| भगवन शिव का यह अद्भुत भगवान शिव का ज्योतिर्लिंग अथवा काशी […]

बद्रीनाथ और केदारनाथ से जुडी एक भविष्यवाणी जिससे सुन आप हो जायेंगे हैरान

Kedarnath Aapda (Kedarnath Aapda) बद्रीनाथ की कथा ( Badrinath ki katha) अनुसार सतयुग में देवताओं, ऋषि-मुनियों एवं साधारण मनुष्यों को भी भगवान विष्णु के साक्षात दर्शन प्राप्त होते थे. इसके बाद आया त्रेतायुग- इस युग में भगवान सिर्फ देवताओं और ऋषियों को ही दर्शन देते थे, लेकिन द्वापर में भगवान विलीन ही हो गए. इनके स्थान […]

भूलकर भी न करे शिव पूजा में ये गलती मिलेगा दंड

lord shiva, shiva, god shiva, lord shiva stories, shiva statue, shiva parvati, shiva sati story in hindi, shiva mantra, shiva lingam, lord shiva bhajans, lord shiva the destroyer, information about lord shiva

shankh is not allowed in shiv puja: भगवान विष्णु शंख से किये गए जल से अति प्रसन्न हो जाते है, शंख भगवान विष्णु को बहुत ही प्रिय है| फिर आखिर क्यों भगवान शिव की पूजा में न तो शंख बजाया जाता है और नही उनको शंख से जल अर्पित किया जाता है | इसके पीछे […]

स्तंभेश्वर महादेव का मंदिर – समुन्द्र के बीच बना एक मंदिर जो दिन में 2 बार होता है गायब !

Stambheshwar Mahadev Temple

Stambheshwar Mahadev Temple यह एक ऐसा मंदिर जो दिन में 2 बार गायब हो जाता है। यह मंदिर Stambheshwar Mahadev Temple सुबह शाम पल भर के लिए गायब हो जाता है। इस मंदिर में होने वाले चमत्कार को देखने के लिए देश विदशो से भारी संख्या में यहाँ आते है। यहाँ आने वाले श्रद्धालु इस […]

जानिए क्यों विराजते है नंदी शिवलिंग के सामने !

why nandi sit in front of Lord siva

why nandi sit in front of Lord siva  : नंदी शिव शंकर के वाहन है और हर शिवलयो में आपने अक्सर देखा होगा शिवजी की मूर्ति के सामने नंदी की मूर्ति भी स्थापित होती है | श्रद्धालु शिवजी भगवान की पूजा के बाद नंदी जी की पूजा करते है, नंदी पवित्रता ,ज्ञान तथा बुद्धि के […]

क्यों क्रोधित हुए भगवान शिव और काट दिया ब्रह्मा जी का एक शिर – मत्सय पुराण रोचक कथा !

lord shiva cut brahma's head

lord shiva cut brahma’s head  : हिन्दुओ में तीन प्रधान देव माने जाते हे .ब्रह्मा ,विष्णु तथा महेश | जिसमे ब्रह्मा संसार के रचयिता हे, विष्णु पालनकर्ता तथा शिवजी संसार के संहारक हे | पौराणिक कथा के अनुसार शिवजी ने बर्ह्मा को उत्पन किया तथा उन्हें सृस्टि के रचना का कार्य सौपा| जब ब्रह्मा मानसिक […]

कैसे हुआ भगवान शिव की बहन का जन्म और क्यों हुई माँ पार्वती उनसे परेशान !

shivji sister asavari

shivji sister asavari: भारतीय समाज में रिश्ते और संबंधो का बहुत बड़ा महत्व होता है. जब हम कोई छोटी या बड़ी खुसी अपने परिवार के साथ बाटते है तो उस खुसी का आनंद दोगुना हो जाता है. परन्तु वर्तमान समय में परिवार छोटे होते जा रहे है. लोग संयुकत परिवार को छोड़ एकल परिवार की […]

सोमनाथ ज्योतिर्लिंग – भगवान शिव का पहला ज्योतिर्लिंग जहाँ श्रीकृष्ण ने किया था देह त्याग !

12 jyotirling, 12 jyotirlinga, 12 jyotirlingas, hindu mythology, hinduism, jyotirling, jyotirlinga, lord shiva, shiva, shiva jyotirlinga, shiva temple, somanath temple, somnath, somnath mandir, somnath temple, somnath trust, stories from hindu mythology, temple

Somnath Temple: शिव पुराण के अनुसार 12 ज्योतिर्लिंग ( 12 Jyotirling ) में सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का प्रथम स्थान है, यह मंदिर गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र के वेरावल बंदरगाह में स्थित है | कहा जाता है की सोमनाथ ( Somnath Temple ) ज्योतिर्लिंग में स्वयं चन्द्रलोक ने शिवलिंग की स्थापना करी थी और पौराणिक कथाओ के […]

क्यों किया शिव ने तांडव और विष्णु को उठाना पड़ा सुदर्शन चक्र – शिवपुराण रोचक कथा

shiv tandav

shiv tandav : ब्रम्हा जी पुत्र प्रजापति दक्ष की सुपुत्री सती से भगवन महादेव का विवाह हुआ और कुछ समय पश्चात प्रजापति दक्ष को पूरे ब्रम्हांड का अधिपति बना दिया गया इससे उसे अभिमान हो गया और वह खुद को श्रेस्ठ समझने लगा | एक यज्ञ में भगवन शिव के द्वारा दक्ष को प्रणाम न […]

शिव प्रतिमा के आठ प्रकार

bhagwan shiv avtar

हिन्दू धर्म के अनुसार भगवान शिव, इस विश्व में आठ अलग-अलग रूपों में हैं । वे आठ रूप हैं – शर्व, रूद्र, उग्र, भीम, ईशान, पशुपति, भव और महादेव । इन आठ रूपों को ध्यान में रखते हुए, शिव मूरत भी आठ प्रकार कि होती हैं । प्रत्येक रूप और उससे जुड़ी मूर्ती का विवरण […]