आखिर क्यों और कैसे डूबी श्री कृष्ण की बसाई द्वारिका ?

krishna dwarka nagri

krishna dwarka nagri
Panditbooking वेबसाइट पर आने के लिए हम आपका आभार प्रकट करते है. हमारा उद्देस्य जन जन तक तकनीकी के माध्यम से हिन्दू धर्म का प्रचार व् प्रसार करना है तथा नयी पीढ़ी को अपनी संस्कृति और धार्मिक ग्रंथो के माध्यम से अवगत करना है . Panditbooking से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक से हमारी मोबाइल ऐप डाउनलोड करे जो दैनिक जीवन के लिए बहुत उपयोगी है. इसमें आप बिना इंटरनेट के आरती, चालीसा, मंत्र, पंचांग और वेद- पुराण की कथाएं पढ़ सकते है.

इस लिंक से Android App डाउनलोड करे - Download Now

श्री कृष्णा ने मथुरा में जन्म लिया था और वे गोकुल में पले बड़े थे | इसके बाद उन्होंने समस्त यदुवंशियो के साथ द्वारिका बसाई और यही से देश भर में राज किया | परन्तु आखिर ऐसा क्या हुआ की महाभारत युद्ध के 36 वर्ष पश्चात पूरी द्वारका समुदर में डूब गई तथा द्वारिका डूबने से पूर्व यदुवंशियो के साथ-साथ श्री कृष्ण भी मारे गए ?

ये भी पढ़े... अगर आप धन की कमी से परेशान है या फिर आर्थिक संकट से झूझ रहे है या धन आपके हाथ में नहीं रुकता तो एक बार श्री महालक्ष्मी यन्त्र जरूर आजमाएं !

दंत कथाओ के अनुसार समस्त यदुवंशियो की मृत्यु और द्वारिका डूबने के पीछे दो कारण थे जिनमे पहला कारण था गांधारी द्वारा श्री कृष्ण को दिया श्राप | महाभारत युद्ध के अंत में ,युधिष्ठर के राजतिलक के दौरान गंधारी ने कृष्ण को श्राप दिया था की जिस तरह तुम्हारे कारण पूरा कौरवो के वंश का नाश हुआ इसी तरह पुरे यदुवंश का नाश होगा | दूसरा कारण था ऋषियों दवारा कृष्ण पुत्र साम्ब को श्राप |

2 Pings & Trackbacks

  1. Pingback:

  2. Pingback: