पूर्णिमा के दिन इन उपायो को करने से माँ लक्ष्मी होती है प्रसन्न ! सुख संपत्ति का घर म होता है आगमन!

धन प्राप्ति के सामान्य टोटके,लक्ष्मी प्राप्ति के सरल टोटके,dhan prapti ke achook upay,dhan prapti ke liye totke,

हर हिन्दू महीने के मुताबिक शुक्ल पक्ष के आखिरी दिन यानि 15 वे दिन को पूर्णिमा के रुप में मनाया जाता है.
पूर्णिमा के दिन आसमान में चंद्रमा पूरा गोल नज़र आता है.
शास्त्रों की मानें तो धन की देवी लक्ष्मी माता को पूर्णिमा का दिन सबसे ज्यादा प्रिय है.
इस पूर्णिमा के दिन जिस किसी ने भी माता लक्ष्मी को प्रसन्न कर लिया, उस पर लक्ष्मी मां की विशेष कृपा बरसती है..
1 – कहा जाता है कि हर महीने की पूर्णिमा को सुबह के वक्त पीपल के वृक्ष पर माता लक्ष्मी का आगमन होता है.  इस दिन अपने नित्य कर्मों से निवृत्त होकर जो भी इंसान पीपल के पेड़ पर कुछ मीठा रखकर, जल अर्पित करता है और धूप-दीप और अगरबत्ती से मां लक्ष्मी की पूजा करता है उसपर मां लक्ष्मी की खास कृपा होती है.
2 – पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी की प्रतिमा के सामने 11 कौड़ियां चढ़ाकर उन पर हल्दी से तिलक करें. अगले दिन सुबह इन कौड़ियों को लाल कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी में रख दें.
इस तरह से हर पूर्णिमा के दिन इन कौड़ियों को अपनी तिजोरी से निकालकर माता के सामने रखें, उनपर फिर से हल्दी से तिलक करें फिर अगले दिन उन्हें लाल कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी में रखें.
हर पूर्णिमा के दिन इस अचूक टोटके को आज़माने से आप पर लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहेगी.
3 – हर पूर्णिमा के दिन माता लक्ष्मी के मंदिर में जाकर, उन्हें इत्र और सुगंधित अगरबत्ती अर्पित करना चाहिए.
इत्र अर्पित करने के बाद अगरबत्ती जलाकर माता लक्ष्मी से अपने घर में स्थायी रुप से निवास करने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए.
4 – सुख, ऐश्वर्य और धन-संपत्ति की कामना करने वाले हर इंसान को घर के मंदिर में श्री यंत्र, व्यापार वृद्धि यंत्र, कुबेर यंत्र, एकाक्षी नारियल, दक्षिणावर्ती शंख जैसी माता को अतिप्रिय वस्तुओं को रखना चाहिए.
इन सभी चीजों को अक्षत के ऊपर स्थापित करना चाहिए. और हर पूर्णिमा को इन चावलों बदलकर उसकी जगह नए चावल को रख देना चाहिए. पुराने चावलों को बहते हुए पानी में प्रवाहित कर देना चाहिए.
5 – जो भी इंसान धन संबंधी परेशानियों से जूझ रहा है, उसे पूर्णिमा के दिन चंद्र उदय होने पर चंद्रमा को कच्चे दूध में चीनी और चावल मिलाकर अर्घ्य देना चाहिए.
अर्घ्य देते समय ‘ओम स्त्रां स्त्रीं स्त्रों स: चंद्रमसे नम:’ या फिर ‘ओम ऐं क्लीं सोमाय नम:’  मंत्र का जप करना चाहिए.
ऐसा करने से आर्थिक परेशानियां धीरे-धीरे कम होने लगती हैं.
6 – हर पूर्णिमा को चंद्रमा के उदय होने के बाद साबूदाने की खीर बनाकर उसमें मिश्री मिला लें और मां लक्ष्मी को उसका भोग लगाने के बाद उसे प्रसाद के रुप में बांट दे.
ऐसा करने से धन आगमन के रास्ते खुलेंगे.
7 – पूर्णिमा के दिन शिवलिंग पर शहद, कच्चादूध, बेलपत्र और फल चढाने से भगवान शिव की प्रसन्न होते हैं.
इसके साथ घिसे हुए सफेद चंदन में केसर मिलाकर भगवान शंकर को अर्पित करने से घर से कलह और अशांति दूर होती है और सुख-संपत्ति का घर में आगमन होता है.
8 – पूर्णिमा के दिन किसी भी तरह की तामसिक चीजों के सेवन से बचना चाहिए.
इस दिन जुए और शराब से जितना हो सकते उतना दूर रहना चाहिए. बड़े बुजुर्गों का सम्मान करना चाहिए और भूलकर भी किसी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए
बहरहाल अगर आप भी माता लक्ष्मी की विशेष कृपा पाने की लालसा रखते हैं तो फिर इन टोटकों को ज़रूर आज़माकर देखिए.
हो सकता है कि माता लक्ष्मी आप पर प्रसन्न हो जाएं और सुख-संपत्ति से आपका घर भर जाए

READ  मूर्तीपूजा की सार्थकथा क्यों ?

Related Post