हनुमान जी से जुडी इस सच्चाई को जान आश्चर्य में पड जाएंगे आप, बजरंग बलि से जुडी अनोखी कथा !

रामायण की कथा से तो हम सभी भली-भाति परिचित ही है, यदि कोई व्यक्ति आप से यह पूछ ले रामायण की कथा में किसने रावण की लंका को जलाया था तो आपकी नजर में वह सवाल पूछने वाला बेवकुफ होगा. क्योकि यह सभी को पता है की रावण की लंका को हनुमान जी ने जलाई थी.

लेकिन यदि हम कहे की रावण की लंका हनुमान जी ने नहीं बल्कि माता पार्वती ने जलाई तो ?

यदि आपको यह सुन कर विशवास नहीं हुआ तो चलिए आज हम आपको हनुमान एवं लंका दहन के संबंध में दो ऐसी कथा के बारे में बताएंगे जिसकी भूमिका हनुमान जी के जन्म से पूर्व है लिख दी गयी थी.

पहली कथा

हनुमान जी की माता अंजना एक राजकुमारी थी, खूबसूरत होने के साथ ही साथ में बहुत चंचलता भी थी. एक बार जब वे वन में भ्रमण को निकली तो विचरण करते समय उनकी नजर ध्यान मग्न ऋषि पर पड़ी.