जानिए भगवान शिव और उनके विचित्र प्रकार के वेश-भूषा से जुड़े रहस्य !

lord shiva dress

lord shiva dress:

समस्त हिन्दू देवी – देवताओ में महादेव शिव के वेशभुसा सबसे विचित्र और रहस्मयी है तथा आध्यात्मिक रूप से भगवान शिव के इस वेश और रूप में अत्यन्त गहरे अर्थ छिपे हुए है. पुराणों के अनुसार भगवान शिव के वेश-भूसा से जुड़े इन प्रतिको के रहस्यों को जान लेने पर मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है. भगवान शिव की वेश-भूसा ऐसी है की हर धर्म का व्यक्ति उसमे अपना प्रतीक ढूढ़ सकता है.
आइये जानते है भगवान शिव और उनकी वेश-भूसा से जुड़े रहस्य .

lord shiva, shiva god, shiva, god shiva, shiv parvati, shiva statue, hindu god shiva, lord shiva history, names of lord shiva, shiva parvati, shiva lord, god mahadev, shiva history, shivas, shiva and parvati

आखिर क्यों है भगवान शिव के ललाट पर तीसरा नेत्र :-
हिन्दू धर्म ग्रंथो के अनुसार अधिकतर सभी देवताओ की दो आँखे है परन्तु भगवान शिव ही एक मात्र ऐसे देवता बताए गए है जिनकी तीन आँखे है जिस कारण वे त्रिनेत्रधारी भी कहलाते है. हिन्दू धर्म के अनुसार ललाट पर तीसरी आँख आध्यात्मिक गहराई को बताती है. तीसरी आँख से अभिप्राय मनुष्य का संसार के सभी बन्धनों से मुक्त होकर सम्पूर्ण रूप से ईश्वर को प्राप्त हो जाना है. जहा भगवान शिव की तीसरी आँख स्थित है वह आज्ञा चक्र का स्थान भी है जो मनुष्य के बुद्धि का स्रोत कहलाता है. आज्ञा चक्र ही विपरीत परिस्थिति में मनुष्य को निर्णय लेने की क्षमता प्रदान करता है.

आगे पढ़े…

Related Post

READ  जाने महादेव शिव के अनोखे स्वरूप नटराज का रहस्य !