यमराज मंदिर चम्बा, हिमाचल प्रदेश – यहाँ लगती है यमराज की अदालत !

Yamraj Temple:

(Yamraj temple) हिन्दू धर्म के अनुसार यम को को मृत्यु का देवता माना जाता है. यम सूर्य के पुत्र है और उनकी माता का नाम संज्ञा है. उनका वाहन भैसा है और उनके सन्देश वाहक कबूतर, उल्लू तथा कौआ है. कहा जाता है की हर प्राणी को मृत्यु के पश्चात उसे यमलोक जाना पड़ता है जहा उसके कर्मो का हिसाब-किताब होता है.

लेकिन आप को जानकर हैरानी होगी की उनके पास जीते जी भी पहुंचा जा सकता है. मतलब यह की भगवान यमराज का एक मंदिर (Yamraj temple) है जो दिल्ली से पांच सो किलोमीटर दूर हिमांचल  के चम्बा जिले में भरमौर नामक स्थान स्थित है. इस मंदिर की खासियत यह है की यह मंदिर पूरी तरह घर की तरह बना हुआ है. परन्तु लोग इस मंदिर (Yamraj temple) के अंदर जाने से घबराते है. अनेक भक्त मंदिर के बहार से ही मंदिर को प्रणाम कर चले जाते है. लोगो की मान्यता है की इस मंदिर में मृत्यु के देवता यमराज निवास करते है. इस मंदिर में एक खाली कमरा है जहा यमराज  के सचिव चित्रगुप्त रहते है जो जीवात्मा के कर्मो का लेखा-जोखा रखते है.

Yamraj Temple

कहा जाता है की जब किसी प्राणी की मृत्यु होती तो यमदूत उसकी जीवात्मा को लेकर चित्रगुप्त के समीप इस मंदिर (yamraj temple) में पहुँचते है और यहाँ चित्रगुप्त उस जीवात्मा के अच्छे व बुरे कर्मो का विवरण देते है. उसके बाद यमदूतों उस जीवात्मा को एक और कक्ष में ले जाते है. इस कक्ष को यमराज की कचहरी कहा जाता है यहाँ पर यमराज  आत्मा के अच्छे-बुरे कर्मो के अनुसार अपना फैसला सुनाते है.
इस मंदिर (Yamraj-temple) में चार प्रकार के अदृश्य दरवाजे है जो स्वर्ण, रजत, ताम्बा और लोहे से निर्मित है. यमराज के फैसला आने पर यमदूत आत्मा को इन दरवाजे से स्वर्ग और नरक की और भेजते है. गरुड़ पुराण में भी यमराज के दरबार में चार दिशावो की और चार दरवाजों का उल्लेख किया गया है.

यह दुनिया का एकलोता मंदिर(Yamraj-temple) है जो यमराज को समर्पित है .यम देवता की पूजा करने से आकाल मृत्यु का भय नही रहता . नरक चतुर्दशी – जो दिवाली से एक दिन पहले आती है, को यमराज की पूजा होती है !

अब आप बिना Internet अपने फ़ोन पर पंचांग, राशिफल, आरती, चालीसा, व्रत कथा, पौराणिक कथाएं और प्रमुख एवं अजीबो गरीब मंदिरो की जानकारी प्राप्त कर सकते है ! Click here to download

भारत के अजीबो गरीब एवं प्रमुख मंदिरो की जानकारी के लिए !

विदेशो में स्थित महादेव शिव के 10 प्रसिद्ध मंदिर – CLICK HERE