बाबा बर्फानी, अमरनाथ – चन्द्रमा के आकार के अनुरूप घटता बढ़ता है बर्फ से बना शिवलिंग !

Amarnath Temple, Amarnath Yatra

amarnath temple, amarnath temple yatra, amarnath yatra, amarnath temple videos, amarnath yatra route, amarnath temple pic,amarnath shrine yatra

Amarnath Temple – Amarnath Yatra:

भगवान शिव की महिमा अद्भुत व अनोखी है. दुनिया भर में शिवजी के अनेक तीर्थ स्थल है इन सब तीर्थो में सबसे प्रमुख तीर्थ स्थल अमरनाथ गुफा(amarnath temple) को माना जाता है क्योकि यहाँ भगवान शिव का शिवलिंग बर्फ से स्वतः ही बनता है. एक और हैरानी की बात यह है की यह शिवलिंग पक्के बर्फ का बनता है जबकि गुफा के बाहर मिलो तक केवल कच्ची बर्फ ही देखने को मिलती है.

शिवजी का यह शिवलिंग चन्द्रमा के घटने-बढ़ने के साथ घटता-बढ़ता रहता है.पूर्णिमा के दिन यह शिवलिंग अपने पुरे आकर में होता है तथा अमावश्या को इस शिवलिंग का आकर अत्यंत छोटा हो जाता है. कहा जाता है की अमरनाथ एक ऐसा शिव धाम है जहाँ साक्षात शिव विराजमान रहते है. श्री अमरनाथ गुफा में स्थित पार्वती पीठ 51 शक्तिपीठों में एक है. मान्यता है की यहाँ माता सती का कंठ भाग गिरा था. अमरनाथ की गुफा हिमालय पर्वत से 4000 किलोमीटर की उचाई पर है जहाँ बर्फ से ढकी पहाड़ियाँ दिखाई देती है.

Amarnath Temple Story:

पौराणिक कथाओ के अनुसार इसी गुफा में शिवजी ने माँ पार्वती को अमरत्व के रहस्य के बारे में बताया था. इस रहस्य को एक शकु नामक कबूतर ने भी सुन लिया था. यह कबूतर बाद में शकुदेव के नाम से अमर हो गया और आज भी यहाँ क्षृद्धालुओ को कबूतरो का जोड़ा दिखाई देता है जिन्हे अमर पक्षी माना जाता है. श्री अमरनाथ गुफा (amarnath temple) में भक्त शिव के प्राकृतिक शिवलिंग के साथ ही बर्फ से स्वतः बनने वाले प्राकृतिक नाग,गणेश पीठ तथा माता पार्वती पीठ के भी दर्शन करते है.

कहा जाता है की प्राकृतिक रूप से बने इस शिवलिंग में इतनी चमक होती है की दर्शन करने वाले भक्तो की आँखों को चकाचोंध कर देती है. मान्यता है की इस गुफा की खोज बुट मलिक नाम के गड़रिये ने करी. एक बार वह वन में अपने भेड़ो को चरा रहा था तभी उसके सामने एक साधु आये, उन्होंने उस गड़रिये को कोयले की एक कांगड़ी दी .जब गड़रिया उस कांगड़ी को ले घर पहुंचा तो उस कांगड़ी में रखे कोयले सोने में परिवर्तित हो गए. गड़रिया उस साधु को धन्यवाद करने उस जगह पर गया जहाँ वह मिले थे .परन्तु वहा साधु नही थे परन्तु पास ही उसे अमरनाथ की गुफा (amarnath temple) दिखाई दी .वह गुफा तभी से आस्था का केंद्र बन गई. अमरनाथ धाम पहुचना सौभग्य की बात होती है, मात्र अमरनाथ गुफा(amarnath temple) में प्रवेश करने से ही मनुष्य शुद्ध हो जाता है. बाबा बर्फानी के दर्शन से मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति होती है !

अब आप बिना Internet अपने फ़ोन पर पंचांग, राशिफल, आरती, चालीसा, व्रत कथा, वेद और पुराणो की कथाएं, हिन्दू धर्म की रीति-रिवाज और प्रमुख एवं अजीबो गरीब मंदिरो की जानकारी प्राप्त कर सकते है ! Click here to download