ये है पुरे भारत के 10 सबसे आमिर मंदिर, जिनके पास है दौलत का असीमित भंडार !

10 Richest Temple of India:

10 richest temple in india

 

भारत हमेशा से ही भक्तो के आस्था का केंद्र रहा है. पुरे संसार में भारत के अंदर सबसे ज्यादा मंदिर है तथा ये मंदिर आस्था के प्रतीक होने के कारण भक्तो द्वारा पूजे जाते है.

असंख्य भक्त इन मंदिरो में अपने मन की शांति या मनोकामना पूरी करवाने भगवान के चरणो में आते है तथा चढ़ावा या दान चढ़ा कर जाते है. भारतीय संस्कृति में भगवान के मंदिरो पर दान या चढ़ावा देने की परम्परा सदियों से चली आ रही है जिस के कारण कुछ मंदिर अत्यंत धनी हो चुके है.

आइये जानते भारत के इन धनी मंदिर की श्रेणियों में 10 प्रमुख मंदिर.

आगे जानिए सबसे धनी मंदिरों के बारे में….

10 Richest Temple of India:

Padamanabh Swamy Temple Kerla

पद्मनाथ स्वामी मंदिर (Padmanabhaswamy Temple):-

पद्मनभवन मंदिर भारत का ही नही बल्कि पूरी दुनिया का सबसे आमिर मंदिर है. केरल में यह तिरुवेन्द्रम में स्थित है. इस मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की एक विशाल प्रतिमा है जिसे देखने करोड़ो श्रधालुओ की यहाँ भीड़ जुड़ती है. इस प्रतिमा में भगवान विष्णु शेषनाग के नीचे शयन मुद्रा में है. यह मंदिर बहुत प्राचीन तथा द्रविड़ शैली से बना हुआ है. इस मंदिर के खम्बे सोने से मढ़े हुए है व इस मंदिर के पास कुल एक लाख करोड़ की सम्पत्ति है.

पद्मनाभ स्वामी मंदिर का निर्माण राजा मार्तण्ड द्वारा करवाया गया था। इस मंदिर के पुनर्निर्माण में अनेक महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखा गया है। सर्वप्रथम इसकी भव्यता को आधार बनाया गया मंदिर को विशाल रूप में निर्मित किया गया जिसमें उसका शिल्प सौंदर्य सभी को प्रभावित करता है। मंदिर के निर्माण में द्रविड़ एवं केरल शैली का मिला जुला प्रयोग देखा जा सकता है।

श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर के तहखाने से स्वर्ण आभूषण, स्वर्ण और चांदी की मुद्राएं, रत्नजड़ित मुकुट, बहुमूल्य पत्थरों की प्रतिमाएं और आभूषणों से युक्त ऐसा खजाना हाथ लगा है जिसकी कीमत एक लाख करोड़ रुपये आंकी गई है।

tirupati balaji, tirupati balaji darshan online booking, tirupati balaji location, tirupati balaji history, venkateshwara tirupati balaji, history of venkateswara swamy tirupati, tirupati balaji temple, tirupati balaji photos

तिरुपति बालाजी का मंदिर (Tirupati balaji):-

तिरुपति वेन्कटेशवर मन्दिर तिरुपति मे स्थित एक प्रसिद्ध हिन्दू मन्दिर है. तिरुपति भारत के सबसे प्रसिद्ध तीर्थस्थलों में से एक है. यह आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित है. यह मंदिर सात पहाड़ो से मिलकर बने तिरुमाला के पहाड़ पर स्थित है जो दुनिया का सबसे प्राचीन पर्वत माना जाता है.

भारत का दूसरा सबसे धनी मंदिर  है तिरुपति बालाजी का मंदिर, जहा भगवान वेंकटेश्वर की पूजा करी जाती है. प्रभु वेंकटेश्वर या बालाजी को भगवान विष्णु का अवतार माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि प्रभु विष्णु ने कुछ समय के लिए स्वामी पुष्करणी नामक तालाब के किनारे निवास किया था। यह तालाब तिरुमाला के पास स्थित है।

तिरुमाला- तिरुपति के चारों ओर स्थित पहाड़ियाँ, शेषनाग के सात फनों के आधार पर बनीं ‘सप्तगिर‍ि’ कहलाती हैं। श्री वेंकटेश्वरैया का यह मंदिर सप्तगिरि की सातवीं पहाड़ी पर स्थित है, जो वेंकटाद्री नाम से प्रसिद्ध है।

वैकुंठ एकादशी के अवसर पर लोग यहाँ पर प्रभु के दर्शन के लिए आते हैं, जहाँ पर आने के पश्चात उनके सभी पाप धुल जाते हैं। मान्यता है कि यहाँ आने के पश्चात व्यक्ति को जन्म-मृत्यु के बंधन से मुक्ति मिल जाती है। इस मंदिर में हमेशा भक्तो की भीड़ होती है तथा इस मंदिर की कुल सम्पति 50,000 करोड़ है.